Explore

Search
Close this search box.

Search

Wednesday, April 24, 2024, 2:42 am

Wednesday, April 24, 2024, 2:42 am

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

मप्र भाजपा के संकल्प पत्र की गारंटी लेने से प्रधानमंत्री  मोदी ने किया मना: सुप्रिया श्रीनेत…

Share This Post

भाजपा का यह जुमला पत्र का समारोह नहीं, बल्कि शिवराज सिंह चौहान की विदाई समारोह है: सुप्रिया श्रीनेत

——

मध्यप्रदेष में हार का ठीकरा किसके सिर पर फोड़ा जाएगा, भाजपा में इस बात की होड मची है: सुप्रिया श्रीनेत

—————

नौटंकी और झूठ में मोदी जी को कोई चुनौती दे रहा है तो वह शिवराज सिंह चौहान: सुप्रिया श्रीनेत

—————

भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में महिलाओं को 3000 रू. देने की बात, कर्मचारियों को पुरानी पेंशन की नहीं की बात: सुप्रिया श्रीनेत

——————

महिलाओं को 3000, 500 रू. का सिलेण्डर, स्कूली बच्चों को 500 से 1500 और, 100 यूनिट बिजली मुफ्त, पुरानी पेंशन योजना, किसानों को पांच हार्स पॉवर बिजली फ्री देने के लिए कांग्रेस सरकार वचनबद्ध: सुप्रिया श्रीनेत

भोपाल, 11 नवम्बर 2023: अखिल भारतीय कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता और सोशल मीडिया प्रमुख सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुये कहा कि अभी थोड़ी देर पहले भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई ने 96 पन्नों का जुमला पत्र रिलीज किया है। भाजपा ने महिलाओं से लेकर किसानों, युवाओं और सरकारी कर्मचारियों को नकारते हुये जनता को यह जुमला पत्र दिया है। इस जुमला पत्र का नाम मोदी की गारंटी, भाजपा पर भरोसा रखा गया है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी के इस जुमला पत्र पर मोदी जी ने हस्ताक्षर तक नहीं किए हैं, जबकि अन्य राज्यों में जहां पर यह रिलीज हुआ वहां पर मोदी जी ने हस्ताक्षर किए हैं। उन्होने यह भी कहा कि मोदी जी ने इस जुमला पत्र पर इसलिए हस्ताक्षर नहीं किया क्योंकि उन्हें यह भी पता है कि वह इस झूठ को नहीं पचा पाएंगे इसलिए मोदी जी ने इसे नकार दिया है और इसलिए शिवराज सिंह चौहान को इस पर हस्ताक्षर करने का मौका मिला। 

सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि जब मैं इस जुमला पत्र की प्रेस वार्ता सुन रही थी तब पत्रकारों से कहीं पर भी सवाल नहीं लिए गए। यह जुमला पत्र का समारोह नहीं बल्कि शिवराज सिंह चौहान की विदाई का समारोह लग रहा था और इसमें एक 4 मिनट 3 सेकंड का गाना चलाया गया, जिसमें केवल एक बार शिवराज सिंह चौहान की फोटो दिखाई गई, बाकी पूरे गाने पर मोदी जी रहे और अंत में एक लाइन थी, कि एमपी के मन में मोदी और मोदी के मन में एमपी। इससे केवल एक बात सामने आ रही है कि हार का ठीकरा मध्यप्रदेष में किसके सिर पर फोड़ा जाएगा अब इस बात की होड़ भाजपा में मची हुई है और इससे यह भी साबित होता है कि नौटंकी और झूठ में मोदी जी को कोई प्रबल चुनौती दे रहा है तो वह शिवराज सिंह चौहान है।

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि आज प्रेस वार्ता की शुरुआत मध्य प्रदेश की महिलाओं से करना चाहती हूं क्योंकि जो महिलाओं को छलता है वह कभी भी किसी का सगा नहीं होता है। अपने को मामा कहने वाले शिवराज सिंह चौहान ने पूरे प्रदेश में लाडली बहनों को 3000 रू. रुपए देने के होर्डिंग तो खूब लगाये है, लेकिन 96 पन्नों के अपने भाजपा के जुमला पत्र में एक भी जगह इसका जिक्र नहीं किया है। इससे पता चलता है कि जो बात उनकी होर्डिंग में लिखी है वह मात्र एक जुमला है। बस 6 दिन की बात और है, मध्य प्रदेश खुशहाली और विकास की ओर अग्रसर होगा, प्रचण्ड बहुमत के साथ कांग्रेस की सरकार बन रही है।

सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश की सभी महिलाओं को 1500 रू. सम्मान राशि देने वाली हैं गैस सिलेण्डर पर बात करते हुए, उन्होंने कहा कि भाजपा की 10 राज्यों सरकार है, लेकिन एक भी जगह इन्होंने गैस के दाम कम नहीं किए हैं। मध्य प्रदेश में सरकार बनते ही हम यहां पर भी सीना ठोकर सभी महिलाओं 500 रू में गैस का सिलेण्डर देंगे ना कि इनकी तरह केवल पीएम उज्जवला योजना वाली महिलाओं को ही उन्होंने आगे कहा कि मध्य प्रदेश में 82 लाख पीएम उज्जवला योजना वाली महिलाएं हैं जिसमें से 44 लाख महिलाएं एक भी बार सिलेंडर नहीं भरवा पाई है।

सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने पत्रकार वार्ता में किसानों पर बात करते हुये कहा कि भाजपा ने महिलाओं को छला है और किसानों को ठगा है। जबकि कांग्रेस ने वचन पत्र में कहा है कि हम किसानों का कर्ज माफ करेंगे, सिंचाई के लिए 5 हार्स पावर तक की बिजली मुफ्त देंगे साथ ही 10 हार्स पावर तक की बिजली आधे दाम पर देंगे। लेकिन भाजपा के जुमला पत्र में किसान की कर्जमाफी और किसानों की बिजली पर भी सन्नाटा है। उन्होंने कहा कि मोदी जी और शिवराज जी 96 पन्नों के इस जुमला पत्र में एमएसपी की बात यह किस मुंह से कर रहे हैं। जबकि भाजपा की 10 राज्यों में सरकार है लेकिन एक राज्य में भी एमएसपी देने का काम नहीं किया है।

प्रदेश के बच्चों की बात करते हुए सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि भाजपा ने अपने जुमला पत्र में लिखा है कि शिक्षा के बजट को जीडीपी के 5 प्रतिषत बजट तक ले जाने का काम करेंगे, पिछले मेनिफेस्टो में इन्होंने कहा था कि हम 6 प्रतिषत ले जाएंगे और असलियत यह है कि इन्होंने 2 प्रतिषत से नीचे खर्च किया है। जबकि मध्यप्रदेश में 26000 स्कूलों में बिजली नहीं है, 29000 स्कूल बंद हुए हैं। करीब 9 लाख बच्चे शिक्षा से वंचित रह गए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पढ़ो और पढ़ाओ योजना के लिये कक्षा 1 से 12 तक के बच्चों को न केवल मुफ्त शिक्षा देने के साथ 500 से 1500 रुपए प्रति महीना देने का भी काम करेगी।

स्वास्थ्य व्यवस्था पर बोलते हुए सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि कोरोना काल में पूरी स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराते हुए हम सभी ने देखी है। कांग्रेस राजस्थान में चिरंजीव बीमा योजना के जरिए 25 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा दे रही है और मध्य प्रदेश में सरकार आने पर हम यहां पर भी 25 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा और 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा देंगे। भाजपा वाले 5 लाख का जुमला बोल रहे हैं। भाजपा के जुमला पत्र में अटल मेडिसिटी बनाने की जो बात कही गई है, जबकि इनके पिछले घोषणा पत्र में इन्होने कहा था कि 6 एम्स मेडिकल कॉलेज बनेंगे। श्रीनेत ने कहा कि मोदी जी ने दरभंगा में एम्स खोला और आज लोग मोदी जी द्वारा बनाये गये एम्स को ढूंढ रहे हैं वैसे ही मध्य प्रदेश में भी हाल है। साथ ही इन्होने यह भी कहा था कि 15 नर्सिंग कॉलेज और पांच मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे जो कि आज तक नहीं बने हैं।

श्रीनेत ने बिजली के बिलों पर बोलते हुए कहा कि इनके जुमला पत्र में फ्री बिजली पर शून्य बटे सन्नाटा है, जबकि हमने अपने वचन पत्र में 100 यूनिट फ्री बिजली और 200 यूनिट हाफ बिजली बिल की बात कही है।

श्रीनेत ने कहा कि हर एक कर्मचारी की आज एक ही मांग है कि ओल्ड पेंशन स्कीम को लागू की जाए। आज हमने राजस्थान, छत्तीसगढ़ और हिमाचल में ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करके दिखाई है लेकिन भाजपा की जुमला पत्र में एक शब्द भी ओल्ड पेंशन स्कीम पर नहीं है। मप्र में हमारी सरकार बनने पर हम पुरानी पेंशन योजना बहाली करेंगे। भाजपा अपने जुमला पत्र में युवाओं को प्रोत्साहन देने की बात कहती है लेकिन नौकरी देने की कोई ठोस बात नहीं है। भाजपा ने युवाओं को पिछले 18 सालों से छलने का काम किया है और इन्हें लगता है कि यह युवाओं को छलकर उनके भविष्य को उज्जवल करेंगे।

सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि भाजपा ने आज 2 लाख रिक्त पदों की बैकलॉक भर्ती पर भी चुप्पी साधी है। भाजपा ने अपने जुमला पत्र में आदिवासियों के निरस्त हुये 3 लाख 22 हजार पट्टों पर भी चुप्पी साध रखी है। तेंदुपत्ता की खरीद के रेट को 4000 रू करने की बात यह कर रहे है, लेकिन 18 वर्षाें से सरकार में होते हुये यह क्यों नहीं किया।

सुश्री सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि इन्होंने अपने जुमला पत्र में ओबीसी का वितरण प्रमाण पत्र सुनिष्चिित करने की बात कही है लेकिन कांग्रेस ने अपनी 15 माह की सरकार में 27 प्रतिषत आरक्षण लागू करने का काम किया था। भाजपा को घोषणा पत्र दो करोड़ नौकरी, 100 स्मार्ट सिटी की तरह यह जुमला पत्र झूठा साबित होता दिख रहा है।


Share This Post

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com