Explore

Search
Close this search box.

Search

Thursday, July 18, 2024, 2:02 am

Thursday, July 18, 2024, 2:02 am

Search
Close this search box.

आरोप सिद्ध होने के बाद एसपी ने कुपी चौकी प्रभारी को कराया गिरफ्तार

आरोप सिद्ध होने के बाद एसपी ने कुपी चौकी प्रभारी को कराया गिरफ्तार युवक द्वारा आत्महत्या किए जाने के बाद परिजनों ने लगाए थे प्रताड़ना के आरोप
Share This Post

छतरपुर। अक्सर आपराधिक मामलों में अपराधियों के गिरफ्तार होने की खबरें सामने आती हैं लेकिन छतरपुर जिले में शुक्रवार को इसके विपरीत मामला सामने आया है। दरअसल शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने एक मामले में आरोपी सिद्ध होने के बाद चौकी प्रभारी को गिरफ्तार करवाया है जिसके बाद यह मामला पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय बन गया। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों किशनगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाली कुपी चौकी प्रभारी सहित एक अन्य व्यक्ति पर आरोप लगे थे कि उनकी प्रताड़ना से तंग आकर एक युवक ने आत्महत्या कर ली है। इस मामले की जांच में चौकी प्रभारी को दोषी पाया गया हैi

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तत्कालीन कुपी चौकी प्रभारी एएसआई श्रीकांत पाठक पर कुपी निवासी विश्वकर्मा परिवार ने आरोप लगाया था कि परिवार के नाथूराम विश्वकर्मा का गांव के ही दुर्जन सिंह से किसी बात को लेकर विवाद हुआ था जिसके बाद चौकी प्रभारी ने नाथूराम विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया और उसके साथ मारपीट की। पुलिस की इसी प्रताड़ना से परेशान होकर चौकी से छूटने के बाद 13 मई को नाथूराम ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

परिजनों ने इस मामले में चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह पर कार्यवाही की मांग की थी। करीब दो सप्ताह पहले पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने कुपी चौकी प्रभारी को हटा दिया था और धारा 306 के तहत मामला पंजीबद्ध कर जांच शुरू की गई थी। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि जांच में यह बात सत्य पाई गई है कि चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह की प्रताड़ना से तंग आकर ही नाथूराम ने आत्महत्या की थी, जिसके लिए चौकी प्रभारी श्रीकांत पाठक और दुर्जन सिंह को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है। उल्लेखनीय है कि जब से एसपी अमित सांघी ने जिले की कमान संभाली तब से जिले की अपराध दर में लगातार गिरावट हो रही है, जिसकी वजह उनकी निष्पक्ष कार्यवाही वाली कार्यप्रणाली है। पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई इस निष्पक्ष कार्यवाही के बाद न सिर्फ मृतक के परिजनों बल्कि संपूर्ण जिले में उनकी सराहना की जा रही है।


Share This Post

Leave a Comment