Explore

Search
Close this search box.

Search

Tuesday, July 16, 2024, 12:16 pm

Tuesday, July 16, 2024, 12:16 pm

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

सीनियर डीसीएम ने किया रात्रिकालीन औचक निरीक्षण, अमानक खाद्य सामग्री नष्ट करवाई और अनियमितताओं पर स्टाल को बंद करवाया

Share This Post

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक श्री सौरभ कटारिया ने अचानक रात 12 बजे भोपाल स्टेशन पहुंचकर स्टेशन का औचक निरीक्षण किया। सबसे पहले उन्होंने यात्री प्रतीक्षालय का निरीक्षण किया और सफाई व्यवस्था पर असंतोष जताते हुए ठेकेदार को सुधार के सख्त निर्देश दिए। उन्होंने गाड़ियों में यात्रियों को वेंडरों द्वारा उपलब्ध करवाई जा रही खानपान सामग्री और प्लेटफार्म पर खानपान स्टालों पर उपलब्ध खानपान सामग्री की गुणवत्ता की जांच की। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कैटरिंग स्टॉल पर जनता खाना के बॉक्स पर एक्सपायरी तिथि की उपलब्धता, गैर अनुमोदित पी.ए.डी. आइटम की बिक्री और खुले में खाद्य सामग्री बेचने जैसी अनियमितताओं की जांच की।डीसीएम

सुबह 4 बजे तक चले इस निरीक्षण के दौरान भोपाल स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 1 पर संचालित खानपान स्टॉल पर उपलब्ध गैर-अनुमोदित फ्लेवर्ड मिल्क, लस्सी इत्यादि खाद्य सामग्री के कुल 39 कार्टन जब्त किए गए। स्टाल पर उपलब्ध खाने के पैकेटों की जांच करने पर पाया गया कि वे लंबे समय से पैक हैं और अब मानव उपयोग के लायक नहीं हैं। इस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए मुख्य स्वास्थ्य निरीक्षक की निगरानी में सभी पैकेट्स को नष्ट कराया गया। साथ ही संबंधित लाइसेंसी के प्रतिनिधि को आवश्यक सुधार कर गुणवत्तापूर्ण खानपान उपलब्ध कराने के लिए समझाइश दी गई।डीसीएम

इसी प्रकार प्लेटफार्म क्रमांक 1 पर संचालित एक अन्य खानपान स्टॉल पर भी खाद्य सामग्री की जांच की गई। खराब गुणवत्ता की खाद्य सामग्री पाए जाने पर तुरंत कार्रवाई कर उस स्टाल का संचालन बंद करवा दिया गया। उपरोक्त कमियों को दूर करने के लिए लाइसेंसी के प्रतिनिधि कर्मचारियों को निर्देश दिए गए और समय-समय पर खानपान स्टॉल की जांच के लिए रेल कर्मचारियों को निर्देशित किया गया।

इस कार्रवाई के दौरान उप स्टेशन प्रबंधक (वाणिज्य), मुख्य खानपान निरीक्षक, वरिष्ठ वाणिज्य निरीक्षक, मुख्य टिकट निरीक्षक और अन्य पर्यवेक्षक उपस्थित थे।डीसीएम

रेल परिसर में यात्रियों को स्वच्छ और उच्च गुणवत्ता युक्त भोजन सुनिश्चित करने हेतु रेल प्रशासन सदैव तत्पर है।


Share This Post

Leave a Comment