Explore

Search
Close this search box.

Search

Wednesday, July 17, 2024, 6:09 pm

Wednesday, July 17, 2024, 6:09 pm

Search
Close this search box.

ओडिसी वेडर भोपाल डीलरशिप पहुंची, उपभोक्‍ताओं को टेस्ट राइड और बुकिंग की पेशकश की गई

• लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज के ब्रांड माईडीएनए के माध्यम से जीनोम परीक्षण के लिए सलाइवा-बेस्ड टेक्नोलॉजी को पेश किया, जो 99% सटीक परिणाम देता है • 5 सालों में 100 करोड़ रुपये का राजस्व जेनरेट करने के लिए 20 करोड़ रुपये का शुरुआती निवेश. मुंबई | 6 जुलाई, 2023: विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करने वाले समूह लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज ने अपनी पहली ऑनलाइन लैब के साथ भारत में जीनोम परीक्षण में सबसे आगे रहने के लिए एक नई पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक की शुरुआत की है. लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज ने उत्कृष्ट बिजनेस के 25 साल पूरे होने के सिलसिले में मनाए जा रहे जश्न के तौर पर नई सब्सिडियरी बनाई हैl कंपनी लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक की शुरुआत के साथ अपने ब्रांड माईडीएनए के माध्यम से जीनोम परीक्षण के लिए सलाइवा बेस्ड टेक्नोलॉजी भी पेश कर रही है, जो 99% सटीक परिणाम देता है. सलाइवा बेस्ड टेस्ट में खून निकालने या फ्लेबोटोमिस्ट की जरूरत नहीं होती है. कोई भी व्यक्ति किट में बताए गए निर्देशों को पढ़ कर अपने घर पर ही यह टेस्ट कर सकता है. लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक का लक्ष्य डॉक्टरों और हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के माध्यम से देश भर में आम लोगों के लिए जीनोम टेस्ट के लिए प्रोडक्ट व टेक्नोलॉजी को उपलब्ध कराना होगा. लोग कंपनी की वेबसाइट के माध्यम से जीनोम परीक्षण किट का ऑनलाइन ऑर्डर कर सकते हैं, जो उन्हें 48 घंटों के भीतर डिलीवर हो जाएगा और टेस्ट हो जाने के बाद उन्हें वापस पिक अप किया जाएगा. लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज के पास पॉलीजेनिक रिस्क स्कोर (पीआरएस) की गणना के लिए स्नैपी नाम का अपना पेटेंट एल्गोरिदम भी है, जो किसी खास बीमारी को लेकर किसी व्यक्ति के आनुवंशिक जोखिम (प्रीडिस्पोजिशन) का अनुमान लगाता है. पीआरएस किसी खास बीमारी के ओवरऑल आनुवंशिक जोखिम का पता लगाने के लिए सभी ज्ञात कॉमन वैरिएंट्स का जोड़ निकालता हैl लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज के संस्थापक श्री सच्चिदानंद उपाध्याय ने इस मौके पर कहा, “जीनोम परीक्षण एक ऐसा रोमांचक व नया एरिया है, जो भारत में हेल्थकेयर में क्रांति लाने की क्षमता रखता है. इस कारण यह बहुत गर्व की बात है कि इस नई सहायक कंपनी की शुरुआत लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज के द्वारा व्यवसाय में उत्कृष्टता के 25 साल पूरे करने के अवसर पर की गई है. लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक कैंसर, हृदय संबंधी बीमारियों, मधुमेह या वंशानुगत स्थितियों जैसी बीमारियों का तुंरत पता लगाने, स्क्रीनिंग करने और पर्सनलाइज्ड तरीके से उपाय करने के लिए बचाव के जीनोम परीक्षण पर फोकस करेगीl” नई सहयोगी कंपनी का लक्ष्य देशभर के 48 शहरों में सुलभ और किफायती जीनोम टेस्टिंग उपलब्ध कराना होगा. शुरुआत में मेट्रो और टियर 1 शहरों पर फोकस किया जाएगा, और फिर अगले 3-4 सालों में टियर 2 और टियर 3 शहरों पर ध्यान दिया जाएगा. लॉर्ड्स मार्क इंडस्ट्रीज की पिछले 25 सालों से अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करने की विशेषज्ञता और उन्नत वैज्ञानिक अनुसंधान का उपयोग करते हुए, जीनोम टेस्टिंग से लोगों को उनकी आनुवंशिक समस्याओं का अच्छे से विश्लेषण और अध्ययन कर स्वास्थ्य संबंधी जोखिम के बारे में सटीक जानकारियां हासिल होंगीl लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ श्री सुबोध गुप्ता ने कहा, “हमारे पास जीनोम टेस्टिंग की तकनीक पहले से ही है. नई सहयोगी कंपनी के गठन से अब हम तत्काल पता लगाने, स्क्रीनिंग करने और पर्सनलाइज्ड तरीके से उपाय करने के लिए बचाव के जीनोम परीक्षण पर फोकस करेंगे. हमारा फोकस फार्माकोजेनोमिक्स पर भी होगा, जो दवाओं को चुनने और सही खुराक तय करने में मदद कर सकता हैl” नियमित स्क्रीनिंग और मॉनिटरिंग के माध्यम से प्रीवेंटिव जीनोमिक्स कैंसर, हृदय संबंधी बीमारियों, मधुमेह या अनुवांशिक दिक्कतों जैसी बीमारियों का तुरंत पता लगाने, समय पर इलाज करने और बेहतर अनुमान लगाने में मदद कर सकता है. लॉर्ड्स मार्क माइक्रोबायोटेक की जीनोम टेस्टिंग किट एंड-टू-एंड प्रीवेंटिव जेनेटिक टेस्टिंग सॉल्यूशन प्रदान करेगी. जीनोम टेस्टिंग किट की कीमत 8000 रुपये से 16,000 रुपये के बीच होगी. लॉर्ड्स मार्क बायोटेक के पास जीनोमिक्स और बिग डेटा डोमेन में 15 सालों से ज्यादा की तकनीकी विशेषज्ञता के साथ जैव प्रौद्योगिकीविदों, सांख्यिकीविदों, आनुवंशिकीविदों, जैव सूचना विज्ञानियों और चिकित्सा परामर्शदाताओं की एक प्रभावशाली आर एंड डी टीम है. कंपनी कैंसर और टीबी जैसी बीमारियों के लिए डायग्नोस्टिक टूल विकसित करने और इन्हें उपलब्ध करने के लिए प्रमुख वैज्ञानिक व अनुसंधान संस्थानों के साथ भी सहयोग करेगी. कंपनी अगले 5 सालों में 100 करोड़ रुपये का राजस्व जेनरेट करने के लिए 20 करोड़ रुपये का शुरुआती निवेश करेगीl
Share This Post

ओडिसी वेडर भोपाल डीलरशिप पहुंची, उपभोक्‍ताओं को टेस्ट राइड और बुकिंग की पेशकश की गईl

भोपाल, 06 जुलाई 2023 : ओडिसी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स, भारत में तेजी से बढ़ रही प्रीमियम इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी, को यह घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है कि इसकी बहुप्रतीक्षित ओडिसी वेडर भोपाल पहुंच गई है। अपने लॉन्‍च के बाद अगले कदम के रूप में, कंपनी ने भोपाल और इसके आसपास के क्षेत्रों में अपनी इस इलेक्ट्रिक मोटरबाइक की प्री-बुकिंग के साथ उपभोक्ताओं को टेस्ट राइड के लिए भी उपलब्ध कराया है, जिससे उपभोक्ता पहली नजर में इस इलेक्ट्रिक मोटरबाइक के अत्‍याधुनिक फीचर्स और एडवांस्‍ड टेक्‍नोलॉजी का अनुभव कर सकें।

ओडिसी वेडर इकोफ्रेंडली और आवागमन के प्रभावी साधन मुहैया कराने के लिए कंपनी की प्रतिबद्धता की दिशा में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। अपने आकर्षक डिजाइन, दमदार परफॉर्मेंस और स्मार्ट फीचर्स के दम पर, ओडिशी वेडर ने देश भर में इलेक्ट्रिक वाहनों के प्रति उत्साही लोगों को ध्यान अपनी ओर खींचा है।

भोपाल इलेक्ट्रिक वाहनों और टू व्हीलर्स को काफी तेजी से अपनाने में सबसे आगे हैं। अब भोपाल के लोगों के पास ओडिशी वेडर की टेस्ट राइड करने और उसकी असाधारण विशेषताओं को अपनी आंखों से देखने का मौका है। वेडर के फीचर्स, विशेषताओं और लाभ के बारे में कंपनी के डीलर्स के पास मूल्यवान जानकारी उपलब्ध है। यह आपको पूरी तरह सहज और सूचना प्रधान टेस्ट ड्राइव का अनुभव देने के लिए बिल्कुल तैयार है। इसी टेस्ट राइड से उपभोक्ताओं को इसकी आकर्षक रफ्तार, आसान हैंडलिंग और सुविधाजनक सफर के बारे में जानने की इजाजत मिलती है। टेस्ट राइड के अलावा भोपाल डीलरशिप इलेक्ट्रिक मोटर बाइक की प्री-बुकिंग भी स्वीकार कर रहे हैं। उपभोक्ता यहां अपनी वेडर रिजर्व करा सकते हैं और इस शानदार बाइक को खरीदने वाले पहले कुछ व्यक्तियों में शामिल हो सकते हैं। बुकिंग की परेशानीरहित प्रक्रिया और बाइक को फाइनेंस कराने के आकर्षक विकल्पों के साथ ओडिसी वेडर का मालिक बनना पहले कभी इतना आसान नहीं था।

ओडिसी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ श्री नेमिन वोरा ने कहा, “हम भोपाल में अपने उपभोक्ताओं के लिए ओडिसी वेडर लाकर काफी उत्‍साहित हैं। वेडर स्टाइल, परफॉर्मेंस और सस्‍टेनेबिलिटी का परफेक्ट मिश्रण पेश करती है। इससे यूजर को राइडिंग का बेमिसाल अनुभव मिलता है। हम बाइक के सभी शौकीनों और बाइक खरीदने में दिलचस्पी रखने वालों को अपनी डीलरशिप पर आने, एक टेस्ट राइड लेने और इलेक्ट्रिक मोबिलटी के भविष्‍य को देखने के लिए आमंत्रित करते हैं।”

ओडिसी वेडर 85 kmph की टॉप स्पीड और प्रति चार्ज में 125 किमी चलने का दावा करती है। यह ऑल-न्यू मोटरबाइक 7 इंच के एंड्रॉयड डिस्प्ले के साथ आती है, जिससे आईओटी कनेक्टिविटी और ओटीए अपडेट्स मिलते हैं। वेडर का एआईएस-156 अप्रूव्‍ड बैटरी पैक अतुलनीय सुरक्षा और तेज चार्जिंग सुनिश्चित करता है, जो इसे रोज आने-जाने के लिए काफी विश्वसनीय बनाता है। ओडिशी वेडर 3000 वॉट की इलेक्ट्रिक मोटर से लैस है। इसके साथ ही इसमें कॉम्बी ब्रेकिंग सिस्टम (सीबीएस), आगे की ओर 240 एमएम के डिस्कब्रेक और पीछे की ओर 220 एमएम के डिस्कब्रेक हैं। रोजाना के सफर के लिए सुविधाजनक इस बाइक की अपने नजदीकी डीलर या कंपनी की वेबसाइट पर जाकर केवल 999 रुपये में प्री-बुकिंग कराई जा सकती है (जो पूरी तरह रिफंडेबल है)। इस बाइक के लिए खोले गए बुकिंग ऑफर और आसान ईएमआई के विकल्पों के बारे में जानने के लिए ओडिसी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की वेबसाइट (www.odysse.in) पर जा सकते हैं या अपने नजदीकी डीलर से संपर्क कर सकते हैं।


Share This Post

Leave a Comment