Explore

Search
Close this search box.

Search

Sunday, May 19, 2024, 4:31 am

Sunday, May 19, 2024, 4:31 am

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

मंगलसूत्र, मांस, मटन, मछली, माओवादी सोच, मुसलमान,घुसपैठिया, ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले यह 10 साल के प्रधानमंत्री की भाषा है: जीतू पटवारी

जीतू पटवारी
Share This Post

मध्य प्रदेश की जनता के सवालों पर जवाब क्यों नही देते प्रधानमंत्री? क्या झूठ बोलो, जोर से बोलो, बार बार बोलो की गारंटी ही सबसे सफल मोदी गारंटी है?: जीतू पटवारी

भोपाल, 24 अप्रैल 2024: मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री जीतू पटवारी, राज्य सभा सदस्य श्री विवेक तंखा एवम मीडिया अध्यक्ष श्री मुकेश नायक ने पीसीसी में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के मध्य प्रदेश आगमन एवम राजधानी भोपाल में रोड शो के दिन मध्य प्रदेश की जनता से किए गए वादों पर प्रश्न किए।

श्री पटवारी ने कहा कि देश में कथित अमृतकाल चल रहा है एवम इसमें संविधान, बाबासाहब अंबेडकर के विचार, वोट का अधिकार एवं मीडिया की आजादी बचाने की लड़ाई चल रही है। मोदी जी के शासनकाल में 17 सरकारें गिराई गई, 500 से ज्यादा विधायक एवं कई सांसद इधर उधर हुए। जैसे शराब माफिया,भू माफिया, शिक्षा माफिया होते हैं वैसे ही भाजपा अब सरकार माफिया बन गई है।जीतू पटवारी

श्री पटवारी ने कहा कि क्योंकि प्रधानमंत्री आज रोड शो कर रहे हैं इसलिए अब वे शोमैन हो गए हैं। भाजपा कहती है कि वे भगवान के अवतार हैं, मुख्यमंत्री ने उन्हें बजरंगबली का अवतार बताया तो बजरंगबली के अवतार यह बताएं कि मध्य प्रदेश की 1.29 करोड़ लाडली बहनों के खाते में 1250 रुपए ट्रांसफर किए जा रहे थे और चुनाव के बाद ₹3000 प्रतिमाह की मोदी की गारंटी के लिए क्या किया जा रहा है? सरकार यह पैसा कब से देना शुरू करेगी? भाजपा सरकार ने मोदी की गारंटी के तहत कहा था कि लाड़ली बहना योजना की हितग्राही महिलाओं और प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की हितग्राही महिलाओं को योजना का लाभ मिलेगा। इन्हें यह लाभ कब मिलेगा?

श्री पटवारी ने प्रधानमंत्री से पूछा कि प्रदेश में रबी सीजन की प्रमुख फसल गेहूं है, किसान कल्याण तथा कृषि संचालनालय के आंकड़ों के मुताबिक साल 2021-22 में एमपी में 9829 हजार हेक्टेयर रकबे पर गेहूं और 3441 हजार हेक्टेयर भूमि पर धान की फसल ली गई, परंतु इनसे किए वादों को पूरा क्यों नहीं गया? गेहूं का उत्पादन 35669 हजार मीट्रिक टन और धान का 12502 हजार मीट्रिक टन रहा। गेहूं धान के इस सीजन में किसानों ने अपना रकबा और बढ़ाया ही है। इस उम्मीद में कि उन्हें गेहूं के लिए 2700 और धान के लिए ₹3100 का भुगतान दिया जाएगा। किसानों के साथ हुई इस धोखाधड़ी की भरपाई कब की जाएगी?

श्री पटवारी ने पूछा कि इलेक्टोरल बॉन्ड में चौंकाने वाले खुलासे हुए परंतु भाजपा ने इसे घोटाला क्यों नही माना? 30 से ज्यादा कंपनियां ऐसी हैं, जिन्होंने छापेमारी के ठीक बाद भाजपा को मोटा चुनावी चंदा दिया। कई और कंपनियों ने अपने नेट प्रॉफिट की तुलना में कई गुना ज्यादा चुनावी चंदा दिया। शराब कंपनियों ने पांच साल में 34.54 करोड़ रुपए चंदा दिया। कोलकाता की केसल लिकर ने 7.5 करोड़, भोपाल के सोम ग्रुप ने 3 करोड़, छत्तीसगढ़ डिस्टलरीज ने 3 करोड़, मध्य प्रदेश से जुड़ी एवरेस्ट ब्रेवरीज ने 1.99 करोड़ और एसो अल्कोहल ने 2 करोड़ दिए। इनमे से कुछ के मालिकों की चंदा देने के बाद जमानत हुई।

श्री पटवारी ने पूछा कि भ्रष्टाचार को दो आंखों से कब तक देखेगी भाजपा? विभिन्न जांच एजेंसियों ने भाजपा के अधिकारियों/नेताओं के कार्यालयों/परिसरों पर छापे के बाद उनके खिलाफ 265 मामले दर्ज किए थे, लेकिन मध्य प्रदेश में भाजपा सरकार ने उनमें से 60 मामले वापस लेने का फैसला किया। इसका सीधा मतलब है कि यह भ्रष्टाचार सरकार के संरक्षण में हो रहा था! प्रधानमंत्री जी यह बताएं कि भ्रष्ट और दागी अफसर पर मुकदमा चलाने की मंजूरी कब दी जाएगी?

श्री पटवारी ने पूछा कि मध्य प्रदेश में भर्ती परीक्षाओं में सरकारी माफिया से कब मुक्ति मिलेगी? अभी 2 महीने पहले ही इंदौर में बड़ी संख्या में छात्रों ने हाथों में बैनर, पोस्टर लेकर विरोध प्रदर्शन की रैली निकाली और बाद में कलेक्टर कार्यालय जाकर पटवारी भर्ती परीक्षा को निरस्त करने की मांग का ज्ञापन भी सौंपा। व्यापम से शुरू हुआ भर्ती घोटाला का सिलसिला प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को याद आ गया! प्रधानमंत्री जी यह बताएं कि मध्य प्रदेश में कुल कितनी भर्ती परीक्षाएं हुई जिनके पेपर लीक नही हुए? क्या इनमें से एक भी ऐसी थी जिन्हें वह निर्विवाद कह सकते हैं? प्रधानमंत्री को लगता है कि व्यापम के आरोपी मुख्यमंत्री को बदल देने से भाजपा के अपराध लोग भूल जाएंगे? मार्च में वल्लभ भवन में आग लग गई, इसके पहले सतपुड़ा भवन भी आग का शिकार हुआ था। पिछले साल जून माह में मध्य प्रदेश के दूसरे सबसे बड़े सरकारी दफ्तर सतपुड़ा भवन में भी आग लग गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि आग लगने से 12 हजार से ज्यादा फाइल में जल गई और 80% से ज्यादा दस्तावेज़ खत्म हो गए। बार-बार आग लगती है जांच की घोषणा होती है लेकिन सिर्फ भ्रष्टाचार का सबूत ही भस्म होता है। मोदी जी ने मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री तो बदल दिया, लेकिन सोची समझी साजिश के तहत लगने वाली इस आग के संस्कार को कब बदल जाएगा?

श्री पटवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने अच्छे दिन, विकसित भारत, विकास से नाता जैसी बातें कही थी परंतु अब मंगलसूत्र, मांस, मटन, मछली, माओवादी सोच, मुसलमान, घुसपैठिया, ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले, यह 10 साल के प्रधानमंत्री की भाषा है यह दुखद है। मध्य प्रदेश की जनता के इन सवालों पर जवाब क्यों नही देते प्रधानमंत्री? झूठ बोलो, जोर से बोलो, बार बार बोलो की गारंटी ही क्या मोदी गारंटी है? मोदी जी की सबसे सफल गारंटी झूठ की गारंटी है? कांग्रेस पार्टी सड़क से संसद एवम कोर्ट तक जनता की लड़ाई लड़ेगी साथ ही जनता से आग्रह है कि इन प्रश्नों का जवाब प्रधानमंत्री जी से मांगे।


Share This Post

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com