Explore

Search
Close this search box.

Search

Sunday, May 19, 2024, 5:29 am

Sunday, May 19, 2024, 5:29 am

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

ग्वालियर में ताल दरबार कार्यक्रम में बना गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड…

Share This Post

ताल दरबार में तबलों की थाप पर गुंजायमान हुआ ग्वालियर किला
तानसेन समारोह में 1282 तबला वादकों की एक साथ प्रस्तुति से बना विश्व रिकॉर्ड
25 दिसंबर को प्रदेश में मनाया जाएगा तबला दिवस
ग्वालियर में संगीत साधकों का कुंभ

– मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव

ग्वालियर, 25/12/2023। हारमोनियम, सितार और सारंगी की धुन पर सजे लहरा और कायदा पर तबला वादन ने ग्वालियर किला को गुंजायमान कर दिया। यूनेस्को द्वारा चयनित संगीत नगरी में राष्ट्रीयता का उद्घोष करते हुए 1300 से अधिक संगीत साधकों ने प्रदेश की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और संगीत की त्रिवेणी को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज करा दिया। ग्वालियर में तानसेन समारोह के अंतर्गत आयोजित ‘‘ताल दरबार’’ कार्यक्रम का जहां मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और विधानसभा अध्यक्ष श्री नरेंद्र सिंह तोमर उपस्थित रहे।

इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनते हुए मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड संस्था का प्रमाण पत्र ग्रहण किया। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि इस उपलब्धि को यादगार बनाने और सभी संगीत साधकों के सम्मान में 25 दिसंबर को पूरे प्रदेश में तबला दिवस मनाया जायेगा। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कलाकारों को संबोधित करते हुए कहा कि ताल दरबार के कला साधकों ने संगीत के कुंभ का नजारा दिखा दिया। आज स्वयं भगवान इंद्र की सभा का स्वरूप नजर आया। आप सभी की संगीत साधना को देखकर मैं धन्य हो गया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि तबलों की थाप से निकलता सुमधुर संगीत मातृभूमि को देश के हृदय स्थल से राष्ट्र को एक संगीतांजलि है। डॉ. यादव ने इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने पर सभी संगीत के गुरुओं और विद्यार्थियों को बधाई और शुभकामनाएं दी।

संगीत आत्मा को परमात्मा से जोड़ने का माध्यम है – ज्योतिरादित्य सिंधिया

कार्यक्रम में शामिल केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि संगीत अपनी आत्मा को परमात्मा से जोड़ने का एक माध्यम है। आज ग्वालियर में तानसेन महोत्सव के अंतर्गत आयोजित ताल दरबार कार्यक्रम में 1500 वादकों का एक साथ प्रदर्शन एक प्रत्यक्षदर्शी के रूप में सुनना एक ऐसा ही अलौकिक आध्यात्मिक अनुभव रहा।

भारतीय संगीत को इस आयाम तक पहुंचाने का सराहनीय प्रयास – नरेंद्र सिंह तोमर

मध्यप्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि मध्यप्रदेश की कला और संस्कृति का वैश्विक चित्र ‘‘ताल दरबार’’ तानसेन समारोह के शताब्दी वर्ष से पहले एक सांस्कृतिक प्रणाम है, जो इस बात की उद्घोषणा करता है कि प्रत्येक लय और प्रत्येक ताल जीवन का अनुशासन है और यह मावन जीवन की अनिवार्यता भी है। ग्वालियर वह धरती है जिस पर संगीत सांस लेता है। मैं संगीत की दुनिया के इन सभी कलाकारों को बधाई व शुभकामनाएं देता हूं, जिन्होंने भारतीय संगीत को इस आयाम तक पहुंचाने का सराहनीय प्रयास किया है।


Share This Post

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com