Explore

Search
Close this search box.

Search

Sunday, June 16, 2024, 12:28 pm

Sunday, June 16, 2024, 12:28 pm

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

बंटाढार और करप्शननाथ की ’गुटबाजी’ फिल्म का ट्रेलर जारी

CANON TIMES
Share This Post

कपड़ा फाड़ कांग्रेस के दो बड़े किरदार


बंटाढार और करप्शननाथ की ’गुटबाजी’ फिल्म का ट्रेलर जारी


3 दिसंबर को रिलीज होगी ’कांग्रेस की हार’ फिल्म


कांग्रेस कार्यकर्ता असमंजस में… कौन दिलाएगा टिकट?


 पंकज चतुर्वेदी

भोपाल, दिनांक 19/10/2023। आ तो गए हैं तेरी महफिल में.. अब किसको पता किस दिल से आए हैं..किसी शायर की ये पंक्तियां इन दिनों कांग्रेस की कपड़ा फाड़ राजनीति के दो अहम किरदारों यानी कमलनाथ और दिग्वजिय सिंह की जोड़ी पर सटीक बैठ रही हैं। कांग्रेस ने सही मायनों में वचनपत्र जारी नहीं किया, बल्कि कांग्रेस में चल रही गुटबाजी और कपड़ा फाड़ राजनीति का बस एक ट्रेलर जारी किया है। कांग्रेस में सूची आने के बाद पूरे प्रदेश में घमासान मचा हुआ है। यह बात पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता श्री पंकज चतुर्वेदी ने कही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता कोई कमलनाथ से तो कोई दिग्विजय सिंह के सामने अपने आपको ठगा महसूस कर रहा है। जिस तरह से कांग्रेस के मंच पर दिग्विजय सिंह और कमलनाथ में आमने-सामने शब्दों के तीर एक दूसरे पर चले, उससे कार्यकर्ताओं ने अंदाजा लगाना शुरू कर दिया है कि जब दोनों बड़े नेता ही लड़ रहे है तो हमारे लिए कौन चुनावी सभा करेगा। एक करेगा तो दूसरे नेता के समर्थक नाराज हो जाएंगे। दूसरा करेगा तो उसके समर्थक नुकसान पहुचाएंगे।


3 दिसंबर को रिलीज होगी ’गुटबाजी हार’ फिल्म

श्री पंकज चतुर्वेदी ने कहा कि कांग्रेस की पूरी पिक्चर 3 दिसंबर को रिलीज होगी, जब मिस्टर बंटाढार और करप्शननाथ केवल मंचों पर ही नहीं, बल्कि आमने-सामने एक दूसरे के कपड़े फाड़ते नजर आएंगे। दिग्विजय सिंह और कमलनाथ पुत्र मोह में इतना खो गए हैं कि उन्हें उनके अलावा कुछ नजर ही नहीं आता। कमलनाथ को लोकसभा चुनाव हराने में भी मिस्टर बंटाधार ने अहम रोल निभाया था, लेकिन कमलनाथ और दिग्विजय सिंह को क्यों एक-दूसरे से डर लगता है, इसकी असली वजह क्या है?


कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सामने असमंजस कौन दिलाएगा टिकट?

प्रदेश प्रवक्ता श्री चतुर्वेदी ने कहा कि जिस तहर वचनपत्र के दिन कांग्रेस के दोनों बड़े नेता कमलनाथ और दिग्विजय सिंह आमने-सामने हुए। उससे कार्यकर्ता असमंजस में आ गए हैं। कांग्रेस नेता एक दूसरे से सलाह-मश्विरा कर रहे हैं कि आखिर किसके पास जाऐं। दूसरी सूची में किसकी चलेगी कौन टिकट दिलाएगा। या इन दोनों की लड़ाई में हमारा टिकट कट जाएगा और आलाकमान किसी तीसरे को दे देगा।


Share This Post

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com