Explore

Search
Close this search box.

Search

Tuesday, May 21, 2024, 7:03 am

Tuesday, May 21, 2024, 7:03 am

Search
Close this search box.
LATEST NEWS
Lifestyle

मिलावट के खिलाफ जो युद्ध छेड़ा है उसको हम  अंत तक लेकर जाएंगे: अलका लांबा

Share This Post

चार साल से मंत्री सिलावट की खाद् सामग्रियों में, गेहू में, अन्य चीजों में मिलावट आज भी लगातार जारी है: अलका लांबा


मामा शिवराज सिंह जैसी की जा रही मिलावट तो कंस ने भी अपने दुश्मनों के लिए नहीं सोची होगी: अलका लांबा प्रदेश की सरकार रोजगार और महंगाई में पूरी तरह विफल: अलका लांबा


मिलावट के खिलाफ जो युद्ध छेड़ा है उसको हम अंत तक लेकर जाएंगे: अलका लांबा


भाजपा सरकार में 85 प्रतिशत मिलावट के मामले लंबित,

सरकार चुप बैठी है: अलका लांबा


भोपाल, 25 अक्टूबर 2023: अभा कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुश्री अलका लांबा ने आज मप्र कांग्रेस कमेटी मुख्यालस में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुये कहा कि मध्यप्रदेश में 17 नवंबर को जनता कांग्रेस के पक्ष में वोट करने के लिए इंतजार कर रही है, क्योंकि कमलनाथ जी की 15 महीने की सरकार जनता को आज तक याद है। उन्होंने कहा कि आज भी हमारे सामने कमलनाथ जी के 11 वचन है, जो कि पहले की सरकार की तरह इस बार फिर से पूरे किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि इसी तर्ज पर हिमाचल में भी हमने सरकार बनाई थी। हमने जो काम छत्तीसगढ़ और राजस्थान में किये और जिस तरह से हमने कर्नाटक मेंमिलावट महिलाओं को 2000 रूपये देने का काम किया है। उसी तरह हम मध्यप्रदेश में भी कांग्रेस की सरकार बनने पर महिलाओं को 1500 रू. देने का काम करेंगे, 500 में सिलेंडर देंगे, 100 रू. में 100 यूनिट बिजली मुफ्त और 200 यूनिट पर हाफ देंगे, पुरानी पेंशन बहाल करेंगे, किसान कर्जमाफी होगी, किसानों को पांच हार्स पावर बिजली मुफ्त मिलेगी, जैसे तमाम 11 वचन जो कमलनाथ जी ने दिये हैं, कांग्रेस सरकार उसे पूरा करेंगी। कमलनाथ जी ने 2018 में 27 लाख किसानों की कर्ज माफ़ी की थी और कांग्रेस सरकार बनने पर फिर से किसानों की कर्जमाफी को हम आगे भी करेंगे। हम किसानों पर हुए मुक़दमे भी वापिस लेने का काम करेंगे और ये कमलनाथ जी के वचन है इन फैसलों को सरकार बनने पर हम पहली केबिनेट में लेकर आयेंगे। 

सुश्री अलका लांबा ने कहा कि आज की वर्तमान स्थिति में मध्यप्रदेश के हालत बेहद चिंताजनक है। सीहोर में पनीर फेक्टरी के सेम्पल दो बार फेल हो जाते हैं, छापे में 36 लाख टन पाम आयम मिला है, एनजीटी की रोक के बाद भी उत्पादन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में आज लोगों को जहर परोसा जा रहा है। प्रदेश की शिवराज सरकार ने लोगों की जिंदगियों के साथ खिलवाड़ किया है। दूध, पनीर, खोया, सभी मंे मिलावट की जा रही है, बच्चे, बुर्जुग सभी मिठाई के शौकीन होते हैं, लेकिन उनकी जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। मिठाईयों की जांच नहीं हो पा रही है, त्यौहार के समय पर 36 लाख टन पाम तेल में मिलावट पाई गई है, लेकिन फिर भी सरकार सो रही है। त्यौहार के समय पर मिठाइयों में मिलावट हो रही है और सरकार चुप बैठी है। क्योकि मिलावट माफियाओं से समझौता कर चुकी है आज की सरकार। हर तरह का माफिया सरकार पर पूरी तरह से हावी हो चुका है। भाजपा विधायक ने शिकायत की थी कि गुटखा में भी मिलावट है तो उनको भाजपा से निकाल दिया गया।मिलावट

उन्होंने कहा कि मप्र के मंत्री सिलावट ने आज से चार साल पहले मिलावट खोरो को चुनौती दी थी, लेकिन अब क्या हो गया। एक मिलावट खोर को बचाने के लिए दिल्ली गृह मंत्रालय तक दरवाजे खटखटाये गये। कीर्तिवर्धन केलकर संघ आरएसएस से जुडे़ हुये हैं रेड हुई, छापे पड़े लेकिन गृह मंत्री अमित शाह ने हस्तक्षेप किया और उन्हें बचा लिया, क्योंकि मालमा बड़े नेता का था और मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया गया। मप्र के भिण्ड जिले में 2011 से अभी तक 85 प्रतिशत खाद्य मिलावट के मामले लंबित है, यानि जो केस हुए पर कोई कार्यवाही नहीं हुई, उल्टा चोर दरवाजे से समझौता कर लिया गया। प्रदेश में बेरोजगारी है, महंगाई है इसका सबसे बड़ा कारण है केंद्र की सरकार जो अपनी पीठ खुद थपथपाती है, करोड़ों लोगों को आज भी न खाने वाले अनाज पर आज भी निर्भर होना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि गुटखे में मिलावट तो सुनी थी, लेकिन मध्यप्रदेश में बच्चों के आहार में भी मिलावट है, राशन में मिलावट है। मध्यप्रदेश के जो मंत्री सिलावट जी है अब वो मिलावट मंत्री है बन चुके है। चार साल पहले मंत्री बने सिलावट की मिलावट आज भी अनवरत जारी है। लगता है कि सिलावट जी को मिलावटी माफिया ने धमकी दी है कि सरकार में रहना है तो चुपचाप हमारा साथ दीजिये और हमको बचा के रखिये, यदि हम सलाखों में गये तो आप सत्ता से बाहर हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि यदि मिलावटखोरी पर रोक नहीं लगी तो हम दिल्ली मंत्रालय के दरवाजे खटखटायेंगे। सुश्री अलका लांबा ने एनडीटीवी पर आई रिपोर्ट पत्रकारों को दिखाया। उन्होंने कहा कि वहीं सरकारी गेहूं का वजन बढ़ाने के लिए मिलावट की जा रही है, वहीं बच्चे कुपोषण का शिकार हो रहे हैं, उनका वजन कम हो रहा है।

अलका लांबा में कहा कि मध्य प्रदेश के भिंड जिले में मिलावट के 2011 से लेकर 2023 तक के 85 प्रतिशत मामलों में कोई कार्रवाई या कोई सजा नहीं हुई है। आज मैं देश की सरकार से पूछना चाहती हूं कि 80 करोड़ लोगों को राशन देने का दावा करने वाली सरकार आज बताएं कि मध्य प्रदेश में डबल इंजन की सरकार आखिरकार रोजगार देने में विफल क्यों रही है, महंगाई कम क्यों नहीं हो रही है। मध्यप्रदेश में 78000 बच्चे जो आदिवासी समाज से आते हैं वह मिलावट और कुपोषण की वजह से दम तोड़ रहे हैं।

उन्होंने एक वीडियो दिखाते हुए कहा कि ऐसा अनाज जिसमें रेत और धूल मिलायी जा रही है, गेहूं का वजन बढ़ाया जा रहा है। अपने को मामा कहने वाले शिवराज सिंह चौहान ऐसी मिलावट करवा रहे हैं ऐसा तो शायद कंस मामा ने भी सोचा नहीं होगा जो आज मामा कहलवाने वाले शिवराज सिंह कर रहे हैं। अलका लांबा ने बताया कि देश की महिला बाल विकास मंत्री से पूछा गया कि देश में भुखमरी के आंकड़े बढ़ रहे हैं और तो उन्होंने ओछा और बचकाना बयान देकर अपना पल्ला झाड़ लिया, इस तरह से ये सर्वे करते है और आंकड़े लाते है जो कि पूरी तरह झूठे साबित होते है। उन्होंने कहा कि बिना पढ़े लिखे लोगों को मंत्री जैसी जिम्मेदारी देकर संवैधानिक पद पर बैठाया जाता है जिसका खामियाजा पूरा देश भुगत रहा है, इस तरह के बयान देश के लिए बेहद शर्मनाक और बचकाना है।

आलका लांबा ने पत्रकारों से कहा कि हम कोई भी बात बिना सबूत के और बिना आधार नहीं कह रहे हैं, मुझे पता है कि आप सभी पत्रकार हैं और जनता की आवाज को मुखरता से उठाते है आपकी और हमारी भी जिम्मेदारी है कि हम जनता को सच बताएं। उन्होंने कहा कि सरकार को जगाने का काम हमारी जिम्मेदारी है। जनता क्या खा रही है, यदि आपने और हमने नहीं बताया तो वह भूल जायेगी और फिर धोखे में आ जायेगी? उन्होंने कहा कि शुद्ध के लिए युद्ध चलाकर कमलनाथ जी की सरकार ने सख्ती दिखायी, मामले दर्ज किये। लेकिन कांग्रेस की सरकार को अलौकतांत्रित तरीके से गिराया गया मध्यप्रदेश में। हम लोगों से कहना चाहते हैं की कमलनाथ जी की सरकार को जिस तरह से गैर लोकतांत्रिक तरीके से गिराया गया और हड़पा गया उसका जवाब देने के लिए जनता तैयार है और जिस तरह से हमने छत्तीसगढ़ राजस्थान और हिमाचल में अपनी सरकार बनाई है, उसी तरह कमलनाथ जी के 15 महीने की सरकार के कामों को लेकर हम फिर मध्य प्रदेश में सरकार बनाने जा रहे है। हम आपको बता देना चाहते हैं कि हमने मिलावट के खिलाफ जो युद्ध छेड़ा है उसको हम अंत तक लेकर जाएंगे जब तक मिलावट माफिया का खात्मा मध्य प्रदेश से नहीं हो जाता है कांग्रेस का शुद्ध के लिए युद्ध जारी रहेगा, हम पूरी ताकत के साथ संघर्ष करते रहेंगे और फिर सरकार में आयेंगे और इन मिलावटखोरों का चेहरा बेनकाव करेंगे।


Share This Post

1 thought on “मिलावट के खिलाफ जो युद्ध छेड़ा है उसको हम  अंत तक लेकर जाएंगे: अलका लांबा”

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

advertisement
TECHNOLOGY
Voting Poll
[democracy id="1"]