Explore

Search
Close this search box.

Search

Thursday, July 25, 2024, 3:14 am

Thursday, July 25, 2024, 3:14 am

Search
Close this search box.

आबकारी विभाग के नोटिस का ठेकेदारों ने नहीं दिया जवाब

Share This Post

विभाग ने जारी किए स्मरण पत्र, अब होगी एक तरफा कार्यवाही

छतरपुर। पिछले कुछ दिनों से जिला मुख्यालय सहित जिले के अन्य इलाकों में शराब दुकानों पर निर्धारित से अधिक दामों पर शराब बेचे जाने का मामला सुर्खियों में है। पिछले दिनों जिला मुख्यालय की एक शराब दुकान पर अधिक दामों में शराब बेचे जाने का वीडियो भी सामने आया था जिसे संज्ञान में लेकर आबकारी विभाग द्वारा गोपनीय ढंग से जांच कराई गई और जांच में अधिक दामों पर शराब बेचे जाने की पुष्टि हुई थी। इसी जांच के बाद संबंधित ठेकेदारों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था लेकिन अभी तक किसी भी ठेकेदार ने जवाब प्रस्तुत नहीं किया है। अब विभाग द्वारा संबंधित ठेकेदारों को स्मरण पत्र भेजे जा रहे हैं और इसके बाद भी अगर जवाब नहीं मिला तो फिर कार्यवाही की जाएगी।

दरअसल जिले के शराब ठेकेदारों द्वारा अधिक मुनाफा कमाने की लालच में दुकानों पर रेट सूची चश्पा किए बगैर मनमाने दामों पर शराब बेची जा रही है। पिछले दिनों कुछ ग्राहकों ने इस पर आपत्ति जाहिर की और शराब खरीदते वक्त गोपनीय तरीके से वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिए। मीडिया के माध्यम से जब यह वीडियो विभाग तक पहुंचा तो विभागीय अधिकारियों ने इसे संज्ञान में लेकर जांच कराई गई और जांच में वीडियो सही पाया गया। यह वीडियो छतरपुर की शराब दुकान क्रमांक 2 का था जहां पर ग्राहकों को महंगे दामों पर शराब बेची जा रही थी। आबकारी विभाग के एडीओ हसन गोहिया ने बताया कि जांच के बाद कलेक्टर संदीप जी आर के निर्देशन में आबकारी विभाग ने शहर के लाइसेंसी शराब दुकान क्रमांक 1 और 2, घुवारा, देरी सहित कुल 6 शराब दुकानों पर प्रकरण बनाकर कलेक्टर को नोटशीट भेजी। तदुपरांत 16 और 19 जून को सभी ठेकेदारों को कारण बताओ नोटिस जारी कर 7 दिन में जवाब प्रस्तुत करने के लिए कहा गया लेकिन अभी तक किसी भी ठेकेदार ने जवाब प्रस्तुत नहीं किया है। उन्होंने बताया कि अब ठेकेदारों को पुन: स्मरण पत्र भेजे जा रहे हैं और यदि इसके बाद भी ठेकेदारों ने जवाब नहीं दिया तो संबंधित दुकानों पर एकतरफा कार्यवाही की जाएगी।

*इन शराब ठेकेदारों को भेजे गए थे नोटिस*

आबकारी विभाग के एडीओ हसन गोहिया ने बताया कि जिन शराब ठेकेदारों को नोटिस भेजे गए थे उनमें छतरपुर की शराब दुकान क्रमांक-1 एवं 4 के ठेकेदार मेसर्स मेडस्टोन, छतरपुर की शराब दुकान क्रमांक 2 और शराब दुकान देरी के ठेकेदार आकाश राय और घुवारा की दोनों शराब दुकानों की ठेकेदार सुनीता राय शामिल हैं।

*फिर बिकने लगी महंगे दामों पर शराब, गायब हुई रेट सूची*

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों जब महंगे दामों पर शराब बेचे जाने का वीडियो सामने आया तो विभाग ने दुकानों पर पहुंचकर जांच की। इस दौरान दुकानों पर रेट सूची नहीं थी, इसलिए विभागीय अधिकारियों ने अपनी मौजूदगी में दुकानों पर रेट सूची चश्पा कराई थी लेकिन वर्तमान में यह रेट सूची एक बार फिर गायब हो गई है तथा फिर से महंगे दामों पर शराब का विक्रय शुरू कर दिया गया है। छतरपुर शहर की शराब दुकान क्रमांक 2 पर विभाग द्वारा चश्पा कराई गई रेट सूची वर्तमान में गायब है और सूत्रों की मानें तो यहां एक बार फिर महंगे दामों पर शराब का विक्रय शुरू कर दिया गया है।


Share This Post

Leave a Comment